ऊँ नमो भगवते गोरक्षनाथाय | धर्मो रक्षति रक्षितः | श्री गोरक्षनाथो विजयतेतराम | यतो धर्मस्ततो जयः |     Helpline 24/7: 0551-2255453, 54

सम्पर्क सूत्र

महायोगी गुरु गोरक्षनाथ एवं उनकी तपःस्थली गोरखनाथ मन्दिर पँहुचने का मार्ग

गुरु श्री गोरक्षनाथ जी की तपःस्थली ‘गोरखपुर’ पूर्वी उत्तर प्रदेश का एक सुप्रसिद्ध स्थान है। यहाँ पूर्वोत्तर रेलवे का मुख्यालय है। सोनौली से नेपाल में प्रवेश के लिए मुख्य मार्ग गोरखपुर से होकर जाता है। यहाँ पहुचने के लिए बस, रेलगाड़ी एवम् विमान सेवा भी उपलब्ध है। रेलगाड़ी द्वारा गोरखपुर देश के प्रमुख स्थानों जैसे दिल्ली, कोलकता, मुम्बई एवम् चेन्नई से जुड़ा हुआ है। उत्तर प्रदेश के लगभग सभी जनपदों से उत्तर प्रदेश परिवहन निगम की बसें गोरखपुर तक आती हैं। दिल्ली से दोपहर में एक विमान भी आता है जो वापस दिल्ली को लौट जाता है।

गोरखपुर बस स्टेशन तथा रेलवे स्टेशन से मन्दिर परिसर लगभग 4 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम की तरफ स्थित है। दोनों स्थानों से रिक्शा तथा टेम्पो द्वारा मंदिर पहुँचा जा सकता है।

हवाई अड्डे से मन्दिर परिसर लगभग 9 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में स्थित है। जहाँ से टैक्सी द्वारा मन्दिर परिसर पहुँचा जा सकता है।




पता - श्री गोरखनाथ मन्दिर, गोरखपुर (उत्तर प्रदेश) 273015
फोन - (0551) 2255453, 2255454
फैक्स - (0551) 2255455
ई-मेल - gorakhnathmandir@yahoo.com

Feedback

 
Captcha text